PM मोदी ने राज्यसभा में रखा विकास का ब्लूप्रिंट, 5 साल में क्या-क्या होने वाला है?

by theodoretitherad

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने बुधवार को राज्यसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव के दौरान भारतीय अर्थव्यवस्था (Indian Economy) को लेकर बात की. उन्होंने कहा कि उन्होंने कहा कि हमारा संकल्प भारत को विकसित राष्ट्र बनाने का है और टारगेट टॉप-3 इकोनॉमी बनना है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि ये 5 साल देश में गरीबी के खिलाफ लड़ाई में निर्णायक साबित होने वाले हैं. 

हम दुनिया के टॉप-3 इकोनॉमी में आएंगे

हमें दुनिया की टॉप इकोनॉमी की लिस्ट में भारतीय अर्थव्यवस्था को 10 नंबर से पांच नंबर पर पहुंचाने में सफलता मिली है. हालांकि, शीर्ष पर पहुंचने के साथ चुनौतियां जरूरी बढ़ती हैं, लेकिन कोरोना महामारी और तमाम वैश्विक तनावों के बावजूद इस मुकाम पर लाने में सफल हुए हैं. इस बाद देश की जनता ने हमें 5 नंबर से तीन नंबर की इकोनॉमी बनाने के लिए जनादेश किया है. हमें जो जनादेश मिला है, उससे हम भारत को विश्व की टॉप-3 इकोनॉमी में शामिल करके रहेंगे. 

हमने पिछले 10 सालों में जो किया है, उसकी गति को और बढ़ाएंगे और तय संकल्प को पूरा करेंगे. जब देश दुनिया की तीसरी बड़ी इकोनॉमी बनेगा, तो इसका प्रभाव जीवन के हर क्षेत्र पर पड़ने वाला है. भारत के हर स्तर पर सकारात्मक प्रभाव होने के साथ ही वैश्विक परिवेश में अभूतपूर्व असर दिखाई देने वाला है. आने वाले समय में टियर-2 और टियर-3 सिटीज भी ग्रोथ इंजन की भूमिका में होंगी. 

गरीबी के खिलाफ लड़ाई जीतकर रहेंगे

प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि आने वाले पांच साल गरीबी की खिलाफ निर्णायक लड़ाई के हैं. मैं मानता हूं कि गरीब जब गरीबी के खिलाफ एक सामर्थ्य के साथ खड़ा हो जाता है, तो ये लड़ाई सफलता को प्राप्त करती है. पिछले 10 साल के अनुभव के आधार पर मैं कह सकता हूं ये देश गरीबी के खिलाफ लड़ाई में विजय होकर रहेगा. उन्होंने कहा कि इस कार्यकाल में नए स्टार्टअप्स और नई कंपनियों का विस्तार देखने को मिलेगा. इसके अलावा पब्लिक ट्रांसपोर्ट में तेजी से बदलाव आने वाला है और इसका लाभ भारत के ज्यादा से ज्यादा लोगों को मिले इसकी दिशा में हम गंभीरता से आगे बढ़ रहे हैं. 

सरकार के केंद्र में किसानों का कल्याण
 
इस दौरान PM Modi ने कहा कि सबका साथ सबका विकास हमारा मूल मंत्र है. हमने किसानों के लिए काम किया है और छोटे किसानों को लगातार लाभ मिला. उन्होंने कहा कि किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) के विस्तार के कारण हमने किसान कल्याण को एक व्यापक स्वरूप में देखा. विपक्ष पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस के कार्यकाल में सिर्फ किसानों को गुमराह करने का काम किया गया. एक बार 60000 करोड़ की कर्जमाफी का बहुत हल्ला मचाया था और अनुमान यह था इस कर्जमाफी में छोटे गरीब किसान शामिल ही नहीं थे. उन तक कोई लाभ नहीं पहुंचा था. लेकिन हमारी सरकार के केंद्र में किसान कल्याण है. 

PM Narendra Modi ने उदाहरण देते हुए कहा कि PM Kisan Samman योजना चलाई और इसका लाभ 10 करोड़ किसानों को हुआ है. आज से छह साल में हमने 3 लाख करोड़ रुपये किसानों को दे चुके हैं. राज्यसभा में प्रधानमंत्री जब बोल रहे थे, तो विपक्ष जमकर हंगामा करते हुए बाहर निकलने लगा. इस पर पीएम मोदी ने कहा कि देश देख रहा है कि झूठ फैलानों वालों की सत्य सुनने की ताकत भी नहीं होती. 

You may also like

Leave a Comment

multipurpose site for ROV ,drone services,mineral ores,ingots,agro commodities-oils,pulses,fatty acid distillate,rice,tomato concentrate,animal waste -gallstones,maggot feed ,general purpose niche -consumer goods,consumer electronics and all .Compedium of news around the world,businesses,ecommerce ,mineral,machines promotion and affiliation and just name it ...
multipurpose site for ROV ,drone services,mineral ores,ingots,agro commodities-oils,pulses,fatty acid distillate,rice,tomato concentrate,animal waste -gallstones,maggot feed ,general purpose niche -consumer goods,consumer electronics and all .Compedium of news around the world,businesses,ecommerce ,mineral,machines promotion and affiliation and just name it ...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy